फर्जी निकला मुस्लिम महिला दावा-23 को नहीं, 12 मई को वजीरगंज सीएचसी पर पैदा हुआ था मैनाज का बेटा

प्रधानमंत्री के नाम पर महिला ने नरेंद्र दामोदर दास मोदी रखा था बेटे का नाम

गोंडा। मतगणना के दिन बेटे का जन्म बताकर उसका नाम देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर रखने वाली मुस्लिम महिला की जिस खबर को राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय मीडिया ने अपनी सुर्खियां बनाई, छानबीन मे उसकी जो हकीकत सामने आई है उसे जानकर आपके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी। प्रधानमंत्री के नाम पर अपने बेटे का नाम नरेंद्र दामोदर दास मोदी रखने वाली मुस्लिम महिला का बेटे के जन्म को लेकर किया गया दावा फर्जी निकला है। दरअसल महिला का बेटा 23 मई को नहीं, बल्कि 12 मई को 12.59 बजे वजीरगंज के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पैदा हुआ था। तहकीकात न्यूज के रियालिटी चेक मे यह सनसनीखेज खुलासा हुआ है। इस खुलासे के बाद बेटे के जन्म को लेकर महिला के दावे पर सवाल खड़े हो गए हैं।


वजीरगंज थाना क्षेत्र के परसपुर महरौर गांव की रहने वाली मुस्लिम महिला मैनाज पत्नी मुस्ताक ने 24 मई को यह दावा कर पूरे देश मे सुर्खियां बटोरी थी कि उसने 23 मई को जन्मे अपने बेटे का नाम देश के प्रधानमंत्री के नाम पर नरेंद्र दामोदर दास मोदी रखा है। बेटे को जन्म देने वाली महिला मैनाज का कहना था कि उसने प्रधानमंत्री की नीतियों से प्रभावित होकर अपने बेटे का नाम प्रधानमंत्री के नाम पर रखा है। महिला ने यह भी दावा किया था कि उसका बेटा 23 मई को मतगणना के दिन पैदा हुआ है। नवजात के जन्म पर महिला के इस दावे को लेकर तहकीकात न्यूज ने जब पड़ताल की तो बेहद चौंकाने वाला तथ्य सामने आया।

इस सच्चाई के मुताबिक मैनाज के बेटे का जन्म 23 मई को नहीं बल्कि 12 मई को 12.59 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र वजीरगंज मे हुआ था। वजीरगंज सीएचसी पर कार्यरत डा भावना के मुताबिक 12 मई को वह ड्यूटी पर थी जब मैनाज बेगम पत्नी मुस्ताक प्रसव के लिए केंद्र पर भर्ती हुई थी। दोपहर 12.59 बजे मैनाज ने बेटे को जन्म दिया था। जन्म के समय जच्चा बच्चा दोनो पूरी तरह से स्वस्थ थे। यह पूरी सच्चाई स्वास्थ्य केंद्र के अभिलेखों मे दर्ज है।

राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय मीडिया में बटोरी थी सुर्खियां

23 मई को बेटे का जन्म बताकर व उसका नाम देश के प्रधानमंत्री के नाम पर नरेंद्र दामोदर दास मोदी रखने का दावा कर मैनाज ने खूब सुर्खियां बटोरी थी। वजीरगंज थाना क्षेत्र के परसपुर महडौर की रहने वाली मुस्लिम महिला की इस पहल को राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय मीडिया ने हाथों हाथ लिया था और इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।

महिला ने लिया यू टर्न, अल्ताफ अहमद रखा बेटे का नाम

इस सच्चाई का खुलासा होने के बाद प्रधानमंत्री के नाम पर अपने बेटे का नाम नरेंद्र दामोदर दास मोदी रखने का दावा करने वाली मुस्लिम महिला मैनाज ने भी यू टर्न ले लिया है। मैनाज ने कहा कि समाज उनपर दबाव बना रहा है कि बेटे का नाम नरेंद्र मोदी रखने पर भविष्य मे उसके सामने कठिनाई आएगी। इस पर उसने अपने बेटे का नाम अल्ताफ अहमद रखने का फैसला किया है।हालांकि मैनाज का कहना है कि वह बेटे का नाम मोहम्मद मोदी भी रखेगी।

2 thoughts on “फर्जी निकला मुस्लिम महिला दावा-23 को नहीं, 12 मई को वजीरगंज सीएचसी पर पैदा हुआ था मैनाज का बेटा

  1. ग़जब दुष्ट आत्माएं देश में फैली हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Popular News

Breaking News