शव लेने नहीं आए परिजन, पुलिस कराएगी अंतिम संस्कार

ट्रेन से गिरकर पति पत्नी व युवक की मौत का मामला, युवती के प्रेम विवाह से नाराज परिजनों ने शव लेने से किया इंकार

गोंडा। संतान की एक गैर जिम्मेदाराना हरकत परिजनों को किस कदर निष्ठुर बना सकती है इसकी बानगी गोंडा में रविवार को देखने को मिली जब गोंडा- गोरखपुर रेलखंड पर मनकापुर के सेझरिया गांव के समीप दो दिन पहले ट्रैक के किनारे पड़े मिले तीनों मृतकों मे से दो के परिजन शव लेने नहीं आए। मां बाप के इच्छा के विपरीत घर से भागकर शादी करने के फैसले ने एक युवती को मौत के बाद लावारिस बना दिया। बताया जा रहा है कि युवती के घर से भागकर शादी किए जाने से नाराज परिजनों ने उसका शव लेने से इंकार कर दिया। जबकि युवती के पति के परिजन सिर्फ अपने बेटे का शव लेकर चले गए। वह भी युवती के शव को नहीं ले गए। यही हाल एक अन्य युवक को शव का भी हुआ। उसका सौतेला पिता भी शव लेने नहीं आया। अब पुलिस इन दोनों शवों का अंतिम संस्कार कराएगी।
गोंडा गोरखपुर रेलखंड पर मनकापुर रेलवे स्टेशन के करीब मेझरिया गांव के निकट शनिवार की सुबह रेलवे ट्रैक से किनारे तीन शव पड़े मिले थे। मृतकों में एक महिला व दो पुरुष शामिल थे।  मृतकों के पास से मिले आईडी से उनकी पहचान बिहार का रहने वाली रीता, बुलंदशहर के रहने वाले अनिल व शाहजहांपुर जिले के रहने वाले राजकुमार के रूप मे हुई थी। मृतकों के पास से मिले परिचय पत्रों के आधार पर पुलिस ने जब रीता के परिजनों से संपर्क किया तो उसके पिता ने बताया कि रीता ने उनकी मर्जी के खिलाफ अनिल के साथ भाग कर शादी की थी। इसलिए उसे रीता से कोई लेना देना नहीं है और वह रीता का शव लेने नहीं आया। मृतका के पति अनिल के परिजन उसका शव लेने को आए लेकिन उन्होने भी रीता का शव लेने से इंकार कर दिया। यही हाल तीसरे मृतक राजकुमार का भी हुआ। राजकुमार का सौतेला पिता भी उसका शव लेने नहीं आया। अब पुलिस रीता और राजकुमार के शवों का अंतिम संस्कार कराने की तैयारी कर रही है। अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार ने बताया कि सोमवार को दोनों का अंतिम संस्कार कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Popular News

Breaking News